Bihar 10th board 2021 topper list pdf

Bihar 10th board 2021 topper list pdf

Bihar 10th board 2021 topper list pdf:-

https://drive.google.com/file/d/12SVBW2aWrZLEP_dWhJNRiyEGlBkXN2R5/view?usp=sharing

बिहार बोर्ड के इस बार के नतीजे हालांकि पिछले साल की तुलना में कुछ कमजोर हैं। दरअसल वो इसलिए क्योंकि पिछले साल जो कोरोना काल का समय था उस में स्कूल एक भी दिन नहीं खुले और यहां तक कि जब स्कूल खुले भी तो वापस से बंद हो गए कोरोना की दूसरी लहर की वजह से। खैर जो परिणाम आये उसमें एक इस बार टॉपर की लिस्ट में संयुक्त रूप से तीन छात्र शामिल हुए। रोहतास के संदीप कुमार जमुई की पूजा कुमारी और शुभ दर्शनी ने संयुक्त रूप से टॉप किया है। बिहार बोर्ड के एग्जाम में जिन्होंने 484 नंबर लाये हैं 500 सौ में से। वहीं अगर कुल छात्रों के प्रतिशत की बात करें तो इस बार 78 दशमलव एक साथ फीसदी छात्र ही बिहार बोर्ड के एग्जाम में पास हो पाये जबकि पिछले साल ये 80 दशमलव 5 9 फीसदी छात्र बिहार बोर्ड के टेंथ के में पास हुए थे। बड़ी बात यह भी है जिस स्कूल को लेकर एक मॉडल स्कूल कहा जाता है बिहार में सिमुलतला वाला स्कूल उस स्कूल से इस बार जो टॉप टेन के रैंक थे उसमें से 13 बच्चे सिमुलतला स्कूल से पास हुए हैं उसे मॉडल स्कूल बनाया गया है बिहार में हर साल उस स्कूल से काफी बड़ी संख्या में टॉपर निकलते हैं।

Bihar 10th board 2021 topper list pdf:-

https://drive.google.com/file/d/12SVBW2aWrZLEP_dWhJNRiyEGlBkXN2R5/view?usp=sharing

बिहार बोर्ड के इस साल भी 13 टॉपर निकले हैं अब आप सोच ने उन्हें की एक से 10 में 13 टॉपर कैसे तो वो भी आपको बता दूं कि इस बार बिहार बोर्ड के जो नतीजे आए उसमें वन टू टेन की रैंक में एक सौ एक बच्चे शामिल हैं। यानि की हर पोजिशन पर एवरेज लगभग 10 बच्चों ने स्कोर किया है वहीं टॉप इस बार भी टॉप में तीन बच्चे रहे। रोहतास से संदीप कुमार जमुई की पूजा कुमारी और शुभ दर्शनी। वहीं अगर आप ये बताएं कि आप फर्स्ट डिवीजन कितने छात्रों ने पास किया है तो लगभग 4 लाख 13 हजार 87 छात्रों ने पास किया है। सेकेंड डिविजन 5 लाख 615 छात्राएं हे और थर्ड डिविजन 3 लाख 78 हजार 9 सौ 80 छात्र पास हुए हैं। 16 लाख 84 हजार 466 छात्रों में से कुल 12 लाख 93 हजार चौवन छात्र इस बार पास हुए हैं जिसमें अगर आज लड़के और लड़कियों को देखें तो लड़कों का इस बार परसेंटेज ज्यादा बेहतर है चेला 76 हजार 518 छात्रों ने पास किया जबकि छात्रों की बात करें तो छात्र अब 16 हजार 536 छात्र छात्राओं ने एग्जाम में पास किया है। आपको बतादे की 10वीं के बाद सी परीक्षा का आयोजन फरवरी में किया गया था और बिहार बोर्ड देश के तमाम वार्डो में से सबसे पहला बोर्ड है जिसने रिजल्‍ट घोषित कर दिए हैं तो बिहार बोर्ड ने एक बार फिर से रिकॉर्ड बनाया है 10वीं के नतीजे को सबसे पहले घोषित करने का ये अपने आप में एक कीर्तिमान है और सबसे बड़ी बात ये कि एक एक साथ लगभग एक सौ एक बच्चों ने वन टू टॉप में जगह बनाई है।

Leave a Comment